दोनों हाथों से लोगों को लूट रहे दवा विक्रेता, तमाशबीन बनी सरकार

  • दोनों हाथों से लोगों को लूट रहे दवा विक्रेता, तमाशबीन बनी सरकार 

चंबा: लोगों को सस्ती दरों पर दवाइयां मुहैया करवाने का दावा करने वाली एक दवाई की दुकान के खिलाफ आम आदमी पार्टी के कार्यकत्ताओं ने क्षेत्रीय चिकित्सालय के चिकित्सा अधीक्षक से शिकायत की। विनीत कपूर की अगुवाई में मिले आम आदमी पार्टी के प्रतिनिधियों ने एम.एस. को बताया कि एक व्यक्ति जोकि चिकित्सालय में उपचार के लिए भर्ती है, उसे एंटीबायोटिक इंजैक्शन लग रहे हैं।
इस इंजैक्शन को जब सस्ती दवाइयों के लिए खोली गई दुकान से लिया गया तो उसका मूल्य 354 रुपए रहा। उसी साल्ट का इंजैक्शन एक निजी दवाई की दुकान से खरीदा गया तो उसका मूल्य 207 रुपए रहा। एक ही साल्ट वाले इंजैक्शन के मूल्य में इतना अंतर समझ से बाहर है। कपूर ने कहा कि इन दोनों इंजैक्शनों में महज फर्क इतना है कि इन दोनों की कंपनियां अलग-अलग हैं। ऐसे में यह साफ होता है कि कंपनियों के नाम पर लोगों को चूना लगाया जा रहा है।
विनीत कूपर ने कहा कि हैरान करने वाली बात है जिला चम्बा के लोगों को महज कंपनियों के नाम पर कुछ दवाई विक्रेता दोनों हाथों से लूट रहे हैं लेकिन सरकार इस मामले में तमाशबीन बनी हुई है। उन्होंने कहा कि सस्ती दवाइयां बेचने के नाम पर खोली गई इस दुकान में महंगी दवाइयों को क्यों बिक्री के लिए रखा गया है। यह बात अपने आप में सरकार व संबंधित विभाग की नीयत पर प्रश्नचिन्ह लगाती है। कपूर ने कहा कि इस मामले पर चिकित्सा अधीक्षक अपनी गंभीरता दिखाते हुए इस मामले की जांच करवाएं ताकि लोगों को दोनों हाथों से जो दवाई विक्रेता लूटने में जुटे हुए हैं, उन पर नकेल कसी जा सके। इस प्रतिनिधि मंडल में सलीम मोहम्मद व योगराज महाजन सहित अन्य शामिल रहे।

Share